के.पें.ले.का. (CPAO)

परिचय

राज्य सरकारों के पेंशन से संबंधित मामलों पर संबंधित राज्य सरकारें कार्रवाई करती हैं। भारत सरकार के रक्षा, रेल, डाक, दूरसंचार और सिविल कर्मचारियों के पेंशन संबंधी मामलों पर अलग-अलग कार्रवाई की जाती है। केन्द्रीय पेंशन लेखा कार्यालय में हम पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और एचडीएफसी सहित भारत सरकार के मंत्रालयों/विभागों के साथ केवल सिविल कर्मचारियों के पेंशन मामलों में भूमिका निभाते हैं। रक्षा, रेलवे, डाक और दूरसंचार मंत्रालयों के कर्मचारियों के पेंशन अथवा पेंशन नियमों और प्रक्रियाओं से संबंधित मामलों में संबंधित मंत्रालयों/विभागों और उनके संगठनों को निर्देश देना होता है। मोटे तौर पर सिविल पेंशन मामलों पर मंजूरी से लेकर संवितरण तक निम्नलिखित कार्रवाई की जाती है:-

क्र.सं. कार्यकलाप संबंधित प्राधिकारी
1.

कर्मचारियों के सेवानिवृत्ति लाभों के संबंध में कार्रवाई और मंजूरी

विभाग जहां से सेवानिवृत्त हुये

.2

पेंशन भुगतान आदेश (पीपीओ)/पेंशन में संशोधन के लिए संशोधन प्राधिकार तैयार और जारी करना और बैंक से पेंशन प्राप्त करने का विकल्प देने वाले कर्मचारियों के लिए उसे सीपीएओ भेजना

भुगतान और लेखा कार्यालय (पीएओ)

3.

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संबंधित शाखा को विशेष सील प्राधिकार जारी करना

केन्द्रीय पेंशन लेखा कार्यालय (सीपीएओ)

4.

पेंशनभोगियों का निर्धारित रिकॉर्ड रखना और उन्हें भुगतानकर्ता बैंक शाखाओं को भेजना

जिला मुख्यालयों में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संबंधित शाखा/एचडीएफसी

5.

पेंशन का संवितरण

पेंशनभोगी द्वारा चुनी गई भुगतानकर्ता शाखा (पेंशन संवितरण प्राधिकारी)

उपर्युक्त विवरण से स्पष्ट है कि सेवानिवृत्ति लाभों के विभिन्न पहलुओं पर विभिन्न प्राधिकारी कार्रवाई करते हैं। नीचे दी गई तालिका में पेंशन मामलों से संबंधित विशिष्ट मुद्दों के निपटान के लिए संबंधित प्राधिकारियों का उल्लेख किया गया है ताकि उनके क्षेत्राधिकार में आने वाले मामलों के समाधान के लिए उनसे संपर्क किया जा सके। इससे अनावश्यक असुविधा, विलंब तथा कागजी कार्रवाई से बचा जा सकेगा।

क्र.सं. विषय संबंधित प्राधिकारी
1

सेवानिवृत्ति लाभ या उसमें संशोधन पर कार्रवाई, उसकी गणना और मंजूरी, सेवानिवृत्ति/मृत्यु उपदान, जीपीएफ/सीपीएफ, छुट्टी नकदीकरण, सीजीईजीआईईएस इत्यादि का भुगतान सेवानिवृत्ति लाभों के निर्धारण से संबंधित विवाद पेंशन के संराशीकृत मूल्य का भुगतान जहां बैंक से भुगतान का विकल्प नहीं चुना गया हो, परिवार के किसी अन्य पात्र सदस्य को पारिवारिक पेंशन का भुगतान यदि पेंशनभोगी और उसका पति/पत्नी दोनों जीवित नहीं हो, 01.12.1997 को या उसके बाद सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों को 300/- रु. के मासिक चिकित्सा भत्ते की मंजूरी, 3 साल से अधिक के काल-बाधित दावों की मंजूरी, जीवन-पर्यन्त पेंशन बकायों का भुगतान जहां बैंक के पास कोई नामांकन उपलब्ध नहीं हो।

कार्यालय प्रमुख जहां कर्मचारी अंतिम बार सेवारत था

2

लेखांकन प्रक्रिया से संबंधित मामलों को छोड़कर सेवानिवृत्ति लाभों के संबंध में कोई नीतिगत मामला महंगाई राहत की मंजूरी

पेंशन एवं पेंशन भोगी कल्याण विभाग

3

विशेष सील प्राधिकार/सरकारी आदेश प्राप्त होने के बाद पेंशन और महंगाई राहत का संवितरण पेंशन/पारिवारिक पेंशन की बकाया राशि की गणना 01.12.1997 से पहले सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लिए 300/- रु. का निर्धारित मासिक चिकित्सा भत्ते का संवितरण दावों की मंजूरी: (क) 2000/- रु. या उससे कम पेंशन के लिए 10000/- रु. तक का बकाया, (ख) 2001/- रु. से 3000/- रु. तक की पेंशन के लिए 20000/- रु. तक का बकाया; और (ग) 3000/- रु. से अधिक पेंशन के लिए 30000/- रु. तक का बकाया 15 साल के बाद पेंशन के संराशीकृत भाग की बहाली पेंशनभोगी की मृत्यु पर पारिवारिक पेंशन प्रदान करने के लिए मृत्यु प्रमाण पत्र के साथ आवेदन एक शाखा/बैंक से दूसरी शाखा/बैंक में पेंशन भुगतान का हस्तांतरण

संबंधित बैंक

4

बैंकों से पेंशन प्राप्त करने का विकल्प चुनने वालों के लिए भुगतान और लेखा कार्यालय से पीपीओ/संशोधन प्राधिकार की प्राप्ति पर बैंकों को विशेष सील प्राधिकार जारी करना 1 साल से अधिक किंतु 3 साल से कम के काल-बाधित दावों के भुगतान की मंजूरी जहां बकाया राशि: (क) 10,000/- रु. जब पेंशनभोगी 2000/- रु. या उससे कम मासिक पेंशन ले रहा हो, (ख) 20,000/- रु. जब पेंशनभोगी 2001/- रु. से 3000/- रु. तक की मासिक पेंशन ले रहा हो, और (ग) 30,000/- रु. जब पेंशनभोगी 3000/- रु. से अधिक मासिक पेंशन ले रहा हो। लेखांकन प्रक्रिया बैंकों से संबंधित कोई शिकायत

केंद्रीय पेंशन लेखा कार्यालय